स्कैनर क्या है? | Scanner Meaning In Hindi

इस लेख में आप पढ़ेंगे कि स्कैनर क्या है? इसकी खोज किसने की और यह आज के दौर में किस काम आता है? तो अंत तक ज़रूर पढ़ें।

कल्पना कीजिए कि मेडिकल रिपोर्ट या कोई महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसे आपको तत्काल भेजने की आवश्यकता है, और कूरियर में समय लगेगा। क्या आप अपने आप को असहाय महसूस नहीं करेंगे?

90 के दशक से पहले, लोगों को इस माले में बहुत असहाय महसूस होता था हलाकि तब तक स्कैनर्स का आविष्कार हो चुका होता, तब भी बहुत सी सीमाएँ थीं।

आज के दौर में जैसा कि दुनिया अधिक से अधिक डिजिटल हो रही है, दस्तावेजों को स्कैन करना प्रमुखता प्राप्त कर चुका है और अब स्कैनर एक ऑफिस और कंप्यूटर सेटअप का अभिन्न अंग है। अगर आप जानना चाहते है की कंप्यूटर के उपयोग क्या है तो मेरे इस लेख को ज़रूर पढ़े। विभिन्न ब्रांडों, आकारों और बजटों में अब उनमें से कई प्रकार के बाजार में बाढ़ सी आ गई है।

चलिए आगे इस लेख में जानते हैं की स्कैनर क्या है?

स्कैनर क्या है? | Scanner Kya Hai?

स्कैनर मुख्यतः ऐसा यंत्र है जिसे पोस्टर, printed images, पत्रिका के पन्नों (Magazines), नोटिस, या कागज पर उत्पादित किसी भी अन्य चीज़ जैसे स्रोतों की तस्वीरें लेने के लिए आविष्कार किया गया है। 

सरल भाषा में इस डिवाइस से आप किसी भी फोटो, पेज, पोस्टर ऐसी किसी भी चीज़ की फोटो कुछ ही सेकण्ड्स में ले सकते हैं। जैसे ही वो फोटो स्कैनर द्वारा स्कैन होकर कंप्यूटर में जाती है तो वो डिजिटल रूप ले लेती है जैसे PDF या अन्य कोई डॉक्यूमेंट फॉर्मेट। 

स्कैनर क्या है इसको साधारण भाषा में कहें तो यह स्कैन किए गए डॉक्यूमेंट को एक डिजिटल प्रारूप में परिवर्तित करता है जिसे किसी भी कंप्यूटर पर आगे एडिट या बदलाव किया जाता है।

स्कैनर क्या है? Scanner Kya Hai?

स्कैनर्स के प्रकार | Types of Scanners in Hindi

तकनीकी दुनिया में एक चीज जो स्थिर है, वह है अपग्रेड करना, और जैसे-जैसे तकनीक विकसित होती है, स्कैनर भी अपग्रेड होते जाते हैं। वे विभिन्न आकारों, विन्यासों आदि में भी उपलब्ध हैं, और अंतिम-उपयोगकर्ता की आवश्यकता के अनुसार इकट्ठे किए जा सकते हैं। 

जबकि कुछ (Scanners) स्कैनर क्या है ना विशेष रूप से केवल Black and White दस्तावेज़ों को स्कैन करने के लिए बनाए गए हैं, अन्य रंगीन दस्तावेज़ भी स्कैन कर सकते हैं।

फीड-इन या शीट-फेड स्कैनर्स

ये साधारण स्कैनर हैं जिनमें केवल कागज के दस्तावेजों को स्कैन करने की सीमा होती है क्योंकि उनके पास एक फीडर ट्रे होती है जो ट्रे में रखे कागज को ले जाती है। अतः किसी भी वस्तु को पुस्तक रूप में स्कैन करना यहाँ संभव नहीं है। हालांकि, कुछ एडवांस्ड मॉडलों में क्रम में कई पृष्ठों को स्कैन करने का विकल्प होता है।

सपाट तल स्कैनर (फ्लैटबेड स्कैनर)

फ्लैटबेड स्कैनर क्या है? और इसका उपयोग कहाँ किया जाता है यहाँ जानें।

यह बहुत ही सामान्य रूप से उपयोग किया जाता है और बाजारों में आसानी से उपलब्ध है। इनमें एक कवर के साथ स्क्रीनिंग के लिए एक सपाट सतह होती है जिसे किसी भी स्कैन करने वाली चीज़ को रखने के लिए उठाया जाता है।

यह मॉडल पत्रिकाओं, शैक्षिक सामग्री जैसी पुस्तकों को स्कैन करने के लिए सबसे बेस्ट है जो मुख्यतः भारी होती हैं।

हैंडहेल्ड स्कैनर

ये साधारण रूप से बारकोड आदि को स्कैन करने के लिए उपयोग किए जाते हैं, इस प्रकार Handheld Scanners बिज़नेस लेनदेन और सामान्य उपयोग के लिए उपयोगी होते हैं।

इस परिभाषा से आपको होगा कि हैंडहेल्ड स्कैनर क्या है और यह अन्य स्कैनर जैसे ओवरहेड स्कैनर, बिग फॉर्मेट स्कैनर, स्लाइड या नेगेटिव स्कैनर भी बाजार में उपलब्ध हैं।

यह भी पढ़े: हार्ड डिस्क क्या है?

Scanner के उपयोग | Uses of Scanner in Hindi

कुछ स्कैनर स्टैंडअलोन होते हैं, उनमें से ज्यादातर Scanners को प्रिंटिंग यूनिट के एक भाग के रूप में बनाया गया है। यह स्कैनर कंप्यूटर से जुड़े होने चाहिए।

  • एक बार इसे प्लग इन करने के बाद, यह दिए गए डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के अपने प्राथमिक कार्य को या तो इमेज के रूप में या टेक्स्ट नोट में जानकारी को कैप्चर करता है। 
  • फिर यह डिजिटल डाटा में परिवर्तित हो जाता है और कंप्यूटर की स्क्रीन पर प्रदर्शित होता है। यह ऑटोमैटिक रूप से एक डॉक्यूमेंट के रूप में सेव किया जाता है या आगे की एडिटिंग के लिए संबंधित एप्लिकेशन को भेजा जाता है।
  • स्कैनर क्या है यह इसी से पता चलता है कि इसमें टेक्स्ट या फोटो के रूप में प्रासंगिक डाटा को स्कैन करने और फिर उन्हें सीधे ईमेल एडिटर को भेजने की अंतर्निहित सुविधा होती है। इस प्रकार, किसी भी डॉक्यूमेंट को स्कैन करने के बाद उसकी हार्ड कॉपी ईमेल करना संभव है।
  • कॉपी बनाना एक अन्य महत्वपूर्ण कार्य है जिसे एक स्कैनर करता है। यह स्कैन की गई इमेज की हार्ड कॉपी तैयार कर सकता है और उन्हें प्रिंटर पर भेज सकता है।
  • OCR जैसी तकनीकों की मदद से स्कैनिंग सॉफ्टवेयर को एक लिखित दस्तावेज़ को एक डिजिटल फ़ाइल में बदलने में सक्षम बनाता है जिसे एक वर्ड प्रोसेसर एडिट कर सकता है। 
  • इतना ही नहीं, OCR या ऑप्टिकल कैरेक्टर रिकग्निशन स्कैनर को एक फिजिकल डॉक्यूमेंट की ऑनलाइन कॉपीयां तैयार करने का अधिकार देता है। ओमनीपेज और एक्रोबैट जैसे एडवांस्ड कार्यक्रमों में ऐसी संभावनाएं उपलब्ध हैं।

स्कैनर खरीदने के क्या फायदे हैं?

शेयर करने, संग्रह करने और कॉपी करने जैसी बुनियादी भूमिकाओं के अलावा, एक स्कैनर खरीदे जाने पर कई उद्देश्यों की पूर्ति कर सकता है। एक बड़ा फायदा यह है कि एक स्कैनर के साथ, कोई भी व्यक्ति सभी प्रासंगिक फाइलों का उचित बैकअप बना सकता है।

स्कैनर क्या है और कैसे इससे आपका काम आसान होता है? इस प्रकार कागज और फाइलों के रूप में हार्ड कॉपी को स्टोर करने की आवश्यकता को कम या पूरी तरह से हटा सकता है जो अन्यथा बहुत अधिक जगह घेरते हैं।

स्कैनर खरीदने का एक अन्य लाभ यह है कि यह खरीदार का बहुत सारा पैसा बचाता है, क्योंकि स्कैनर लेने के बाद फिजिकल डॉक्यूमेंट के रूप में जानकारी संग्रहीत करने के लिए जगह किराए पर देने की आवश्यकता नहीं होती है। 

किसी भी दिन विवरण और डॉक्यूमेंट को स्कैन करके और उन्हें ऑनलाइन मैनेज करके डिजिटाइज़ करना सुरक्षित है, जिससे उन्हें किसी भी नकारात्मक घटना से बचाया जा सके।

स्कैन किए गए दस्तावेज़ों को आसानी से कहीं भी ले जाया और एक्सेस किया जा सकता है, हार्ड कॉपी के विपरीत जो चारों ओर ले जाने के लिए बोझिल हो सकते हैं। इन सभी बातों के बाद आप यह तो जान चुके होंगे कि स्कैनर क्या है और यह कैसे काम करता है।

यह भी पढ़े: एमएस एक्सेल क्या है?

स्कैनर खरीदने के क्या नुकसान हैं?

एक डेस्कटॉप स्कैनर घर और कार्यालय के उपयोग के लिए एक मूल्यवान उपकरण हो सकता है, और डेस्कटॉप और उच्च-मात्रा स्कैनर दोनों बिज़नेस (Commercial) उपयोग के लिए भी बेस्ट टूल हो सकते हैं। 

फिर भी, स्कैनर्स के अपने नुकसान भी हैं, और घरेलू उपयोगकर्ताओं और बिज़नेस मालिकों दोनों के लिए महंगा स्कैनिंग समाधान लागू करने से पहले सभी उपलब्ध विकल्पों को देखना महत्वपूर्ण है। स्कैनर क्या है और इसका मूल्य कितना है यह नीचे पढ़िए।

स्कैनर का मूल्य क्या है?

जब कोई एक अच्छा स्कैनर खरीदना चाहता है, तो कुछ फैक्टर को ध्यान में रखा जाना चाहिए। जबकि सबसे बेसिक 7000 रुपयों से 60,000 रुपयों से भी आगे जा सकती है। 

इसके ब्रांड और इसमें शामिल सुविधाओं के आधार पर। स्कैनर की कीमत सीधे किसी ब्रांड की विश्वसनीयता और उसकी विशेषताओं के समानुपाती होती है, इसलिए जितनी अधिक सुविधाएँ होंगी, कीमतें उतनी ही अधिक होंगी। इससे पता चलता की असली में स्कैनर क्या है और क्यों इसका मूल्य इतना है।

यह भी पढ़े: एमएस एक्सेल फार्मूला लिस्ट

अंतिम पंक्तियाँ 

स्कैनर एक महंगा गैजेट हैं, और उन्हें खरीदने से पहले, आपको सुविधाओं, उसकी उपयोगिता और पैसे के मूल्य के बारे में रिसर्च कर लेना चाहिए, हमने पूरी तरह से निष्पक्ष होकर Scanners की अच्छाइयों और बुराइयों को ठीक से बताया है।

इस लेख में हमने स्कैनर की सम्पूर्ण जानकारी आपको देदी है और इसको पढ़ने के बाद शायद ही आपके मन में Scanner से सम्बंधित कोई सवाल बचा होगा, हमने इस लेख में आपको बताय कि स्कैनर क्या है और साथ ही आपको स्कैनर की परिभाषा से लेकर स्कैनर से जुड़ी सभी छोटी-बड़ी जानकारी दी है।

Add a Comment

Your email address will not be published.